समर्थक

सोमवार, 7 सितंबर 2009

आइंस्टीन ही क्यों ?

दुनियाभर में हजारों साइंटिस्ट हर दिन इसी कोशिश में जुटे हैं कि आइंस्टीन को किसी तरह गलत साबित किया जाए। उनके सिद्धांतों, उनके गणितीय प्रमाणों में कहीं कोई नुक्स ढूंढ़ा जाए, E=mc² को अधूरा बताना या उसे गलत ठहराना भी इन्हीं कोशिशों की कड़ियों का एक कमजोर सा हिस्सा है। मेरा पहला सवाल ये है कि आखिर अजय जी ने आइंस्टीन और उनके इस सबसे मशहूर समीकरण को ही क्यों चुना ?....इसका एक आसान और स्वाभाविक सा जवाब है कि मशहूर होने के लिए। ठीक है मशहूर होने की ख्वाहिश गलत नहीं, हर आदमी शोहरतमंद होना चाहता है। लेकिन शोहरत बटोरने के इस तरीके में कई खामियां हैं। मैं एक सवाल पूछना चाहता हूं कि आइंस्टीन जब स्पेशल थ्योरी आफ रिलेटिविटी पर काम कर रहे थे, तो क्या वो ऐसा मशहूर होने के लिए कर रहे थे ?
आइंस्टीन के पूरे काम को देखें तो E=mc² उतना महत्वपूर्ण नहीं है, दरअसल ये तो स्पेशल थ्योरी आफ रिलेटिविटी का एक बाइप्रोडक्ट भर है...जैसे कि आप किसी स्टोर में महंगा सूट खरीदने गए और साथ में रुमाल का पैकेट आपको गिफ्ट के तौर पर मिल गया हो। E=mc² में कमी निकालने से पहले आइंस्टीन की थ्योरी आफ रिलेटिविटी में कमी निकालनी होगी, उसे अधूरा साबित करना होगा।
दूसरा, लेखक का कहना है कि E=mc² कुछ खास स्थितियों में ही सही नतीजे देता है, सामान्य स्थितियों में इससे गलत नतीजे मिलते हैं। मैं लेखक के प्रति पूरा आदर जताते हुए ये पूछना चाहता हूं कि ये विशेष और सामान्य स्थितियां क्या हैं? और लेखक ने इनकी पहचान कैसे किस आधार पर की कि ये स्थिति विशेष है और ये स्थिति सामान्य? मेरे विचार से विशेष स्थिति सामान्य यानि जनरल है और हर जनरल स्थिति विशेष यानि स्पेशल। बेहतर होता कि आइंस्टीन को उन्हीं के हाल पर छोड़कर लेखक अपना समय किसी ओरीजनल सिद्धांत को खोजने में लगाते।
- अमिताभ पांडे, एस्ट्रोनॉमर

1 टिप्पणी:

  1. Albert Einstein: Plagiarist of the Century
    Einstein plagiarized the work of several notable scientists in his 1905 papers on special relativity and E = mc2, yet the physics community has never bothered to set the record straight in the past century.

    http://web.archive.org/web/20061024003841/www.jewwatch.com/jew-leaders-einstein-hoax2.html

    # The Einstein Hoax

    http://web.archive.org/web/20061024003846/www.jewwatch.com/jew-leaders-einstein-hoax3.html

    उत्तर देंहटाएं